दोस्ती | Hindi Kavita

 

दोस्ती 


जिंदगी बहुत छोटी हैं। 

कई  रिश्ते बनते हैं ,
और टूटते। 
यु तो रिश्ते बहुत से मगर ,
सबसे प्यारा रिश्ता दोस्ती का 

यही एक सच्चा रिश्ता ,हता हमेशा साथ 
हर सुख में ,

हर दुःख में। 
देता संबल ,जगाता मन में 
आत्म विश्वास। 
आगे  बढ़ते रहने का 
 हां सच्चा रिश्ता 
एक दोस्त से। 



नीरा जैन

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *