नन्ही बिटिया की मुस्कान में अच्छी कविता Hindi poem

                             
                               नन्ही बिटिया की मुस्कान में 
                                          अच्छी कविता

ढूंढती हु अपने आस पास  

एक अच्छी कविता। 

चहचहाती हैं कलियों में। 

पत्ता पत्ता बूटा बूटा सहलाती हैं 

अच्छी कविता। 

झरनो से झरती हैं 

नदियों में बसती हैं। 

सबसे अच्छी कविता। 

झरनो से झरती हैं। 

नदियों में बसती  हैं। 

मिटटी में महकती हैं 

सोंधी सी कविता। 

चिडियो की चहचहाहट मे 

गूंजती हैं अच्छी कविता। 

राग में। अनुराग में 

गीत में संगीत में। 

खनखनाती हैं अच्छी कविता। 

नन्ही बिटिया की मुस्कान में 

अच्छी कविता 

हमारे सुख और दुःख में 

हैं अच्छी कविता। 

NEERA JAIN  

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *