मुस्कान |खुशियाँ बिखेरती हूँ  सपने सजाती हूँ।Hindi Poem motivational

मुस्कान 

 
हाँ मुझे मिलता हैं तब सुकूँ
जब किसी के दर्द भरे चेहरे पर
मुस्कान लाती हूँ मैं ।
खुशियाँ बिखेरती हूँ 
सपने सजाती हूँ।
मुस्कान लाती हूँ मैं ।
neera jain
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *