काव्य कुंभ के साथ शुरू हुई कलमकार की  साहित्य यात्रा|poetry साहित्य गतिविधि

काव्य कुंभ के साथ शुरू हुई कलमकार की

साहित्य यात्रा

साहित्य कविता कलमकार मंच

 

जयपुर के 40 से अधिक रचनाधर्मियों किया काव्य पाठ
जयपुर। कलमकार मंच की ओर से साहित्य सृजकों को मंच और सम्मान देने की कड़ी में देशभर में निरंतर चलने वाली ‘‘साहित्य यात्रा’’ का शुभारंभ  m डॉ. राधाकृष्णन पुस्तकालय सभागार में आयोजित हुए ‘काव्य कुंभ’’ से हुआ। कलमकार मंच की ओर से डॉ. राधाकृष्णन पुस्तकालय के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित यह आयोजन सुविख्यात कवि बालकवि बैरागी को समर्पित था। इस अवसर पर कलमकार मंच द्वारा प्रकाशित ज्योत्सना सक्सेना के बाल गीत संग्रह ‘‘ठुमकते गीत’’ का विमोचन भी किया गया। कार्यक्रम के दौरान वरिष्ठ शायर लोकेश कुमार सिंह साहिल एवं कवि कैलाश मनहर जब अपनी प्रतिनिधि रचना का पाठ किया तो पूरा सभागार तालियों से गूंज उठा।
इससे पहले कलमकार मंच के संयोजक निशांत मिश्रा ने देशभर में चलने वाली साहित्य यात्रा की जानकारी दी और वरिष्ठ पत्रकार ईशमधु तलवार ने इस साहित्य यात्रा के शुभारंभ की विधिवत घोषणा की। ‘काव्य कुंभ’ की अध्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार नंद भारद्वाज ने की। इस अवसर पर जयपुर के 40 से अधिक रचनाधर्मियों ने अपनी स्वरचित रचनाओं गीत, कविता और गजल सुनाए।
रचना पाठ करने वाले कवियों में वरिष्ठ कवि कल्याण सिंह शेखावत, शिवानी जयपुर, शाइस्ता मेहजबीन, अनुपमा तिवारी, कविता माथुर, ज्योत्सना सक्सेना, कविता ‘मुखर’, प्रीति जैन, अवनींद्र मान, मीनाक्षी माथुर, पारूल जैन, चित्रा भारद्वाज, संगीता व्यास, नीरा जैन, रानी परी ‘चन्दा’, शैलेश सोनी ‘चिरंजीव’, प्रज्ञा श्रीवास्तव, कमलेश शर्मा, आनंद विद्यार्थी, हरेन्द्र प्रताप सिंह, सूरज शर्मा अविराम, विजेन्द्र प्रजापत ‘पोटर’, सुनीता बिश्नोलिया, ऋषि कुमार दीक्षित, कल्पना गोयल, यादवेन्दर आर्य याद, उर्वशी चौधरी, के.के. सैनी, सुनील कुमार, रेणू शर्मा ‘मुखर’, धीरेन्द्र ठाकोर, निरूपमा चतुर्वेदी, राजकुमार इंद्रेश, ओमप्रकाश शर्मा और डॉ. भव्य सोनी शामिल थे।
मंच संचालन कविता मुखर ने किया। अंत में डॉ. राधाकृष्णन पुस्तकालय के पुस्तकालयाध्यक्ष पवन कुमार पारीक ने सभी आगुन्तकों और अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *