समानांतर साहित्य उत्सव  टैगोर के आँगन में मिली पहचान

महिला लेखिकाओं की दस्तक

समानांतर साहित्य उत्सव में नागार्जुन मंच महिलाओ काव्य पाठ किया महिला  रचनाकार मीनाक्षी माथुर मुखर रेणु शर्मा ,कल्पना गोयल, सुनीता विश्नोलिया, कविता माथुर  ने अपनी बेहरारीन रचना प्रस्तुत की मैंने अपनी सकारत्मकता का संदेश देती एक नई सूबह कविता पढ़ी ओर  मीनाक्षी माथुर ने देश भक्ति से सरोबार गीत सुनाकर समा बांध दिया वही पर कविता माथुर  की गुलमोहर पर रचना सभी को बेहद पसंद आई। काव्य पाठ सत्र का सफल मंच संचालन अजय अनुरागी ने किया। उन्होंने अपनी  प्रभावशाली रचना महानगर पर सुनाई । इसके अलावा कन्हिया लाल सेठिया राग दरबारी रांगेय राधव मंच पर भी वरिष्ठ कवि रचनाकारों ने अपनी रचना सुनाई मॉर्निंग न्यूज़ और इवनिंग प्लस में समानांतर साहित्य उत्सव  महिला लेखिकाओं की भागीदारी के संदर्भ में हमारे विचार
आभार कुलदीप शर्मा  Gita Yadav ji